इनकम टैक्स ऑफिसर कैसे बनें?

इस लेख में इनकम टैक्‍स ऑफिसर कैसे बने – इनकम टैक्स ऑफिसर एक सरकारी अधिकारी होत है. जो भारत मे केंद्रीय सरकार का एक विभाग, केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) मे आयकर संबंधी मामलों का कार्य करता है. अगर आप आयकर विभाग (Income Tax Department) मे इंस्पेक्टर बनना चाहते है, तो यहां पूरी जानकारी दी गई हैं.

भारत मे आयकर के बहुत सारे डिफॉल्टर्स हैं. एक इनकम टैक्स इंस्पेक्टर की एक मुख्य जिम्मेदारी है, कि वह उन डिफॉल्टरो को पकड़े और उन्हे विभाग की तरफ से नोटिस भेजे. ताकि उन्हें उनकी वास्तविक आय अनुसार कर का भुगतान करने के लिए बाध्य किया जा सके. अगर आपका भी सपना हैं कि इनकम टैक्‍स विभाग में ऑफिसर कैसे बने तो आज हम आपको इस पोस्ट द्वारा बताएंगे.

इनकम टैक्‍स क्या हैं

इनकम टैक्स को हिन्दी मे आयकर नाम से भी जाना जाता हैं. यह एक तरह का कर होता हैं. जो कि केंद्र सरकार द्वारा किसी भी कंपनी, बिजनेस, संस्थान या व्यक्ति की आय पर लगाया जाता हैं. जिसे वसूलने और इससे संबंधित सभी कार्य की देख रेख भारत मे आयकर विभाग द्वारा किया जाता हैं. जिसमे आयकर अधिकारी समेत कई कर्मचारी कार्य करते है. किसी भी देश के विकास मे लोगो और संस्थानो द्वारा दिए गए टैक्स का काफी अहम भूमिका होता है. 

जिसका उपयोग देश में विकास कार्यों तथा प्रगति के लिए किया जाता है. यदि आप भारत देश के नागरिक है. आपकी वार्षिक आय तीन लाख या फिर इससे नीचे है, तो आप किसी भी प्रकार से आयकर से मुक्त होते है. वही तीन लाख से लेकर पांच लाख या इससे ऊपर की वार्षिक आय वाले व्यक्ति से तय प्रतिशत कर के रूप मे काटा जाता है.

Income Tax Officer Kaise Bane - इनकम टैक्स ऑफिसर कैसे बनें

इनकम टैक्‍स ऑफिसर कैसे बने

आयकर अधिकारी केंद्र सरकार के अंदर आने वाले आयकर विभाग का एक अधिकारी पद हैं. जिसे हासिल करने के लिए छात्रों को किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से स्नातक पास करना अनिवार्य हैं. वही इसके साथ ही जो छात्रों स्नातक बाद ITO बनना चाहते होंगे, उन्‍हें SSC CGL एग्‍जाम देना पड़ेगा. SSC CGL का पूरा नाम Staff Selection Commission — Combined Graduate Level Examination होता हैं.

जिसमे कई अन्य पदों के साथ साथ इनकम टैक्स इंस्पेक्टर भर्ती का एग्जाम का आयोजन किया जाता हैं. इसमें अधिकारी बनने के लिए आपको CGL परीक्षा का चार चरण टियर -1, टियर -2, टियर -3 और दस्तावेज सत्यापन मे सफलता हासिल करना होगा. जिसके बाद आपको आयकर अधिकारी पद पर नियुक्त कर दिया जाता हैं. 

इनकम टैक्‍स ऑफिसर कौन होता है

इनको शॉर्ट मे ITO के नाम से भी जाना जाता है. जो आयकर विभाग मे अधिकारी रैंक की पोस्ट है. इसे SSC CGL एग्जाम द्वारा चुना जाता है. जिसका कार्य आयकर विभाग नियमों का पालन करते हुए कार्य करना हैं. 

अपने क्षेत्र मे चोरी कर रहे संस्थानों और अन्य किसी भी प्रकार के आय पर सही से कर नही चुकाने वाले पर निगरानी रखना होता हैं. किसी की गलती पाने पर उसे सजा दिलवाना इत्यादि से जुड़े सभी कार्य होते है. वही एक इनकम टैक्स अधिकारी केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDI) से जुड़े सभी अन्य मामलों पर भी अपनी निगरानी रखता है. अपने क्षेत्र मे सभी तरह का टैक्स से जुड़े हिसाब किताब और निरीक्षण की जवाबदेही एक इनकम टैक्स ऑफिसर की होती हैं.

इनकम टैक्‍स ऑफिसर बनने के लिए क्वालिफिकेशन

भारत मे आयकर अधिकारी जो बनना चाहते हैं. उन्हे भारत सरकार द्वारा निर्दिष्ट कुछ आवश्यकताओं को पूरा करना होगा. इनकम टैक्स ऑफिसर बनने के लिए क्या योग्‍ताएं (Income Tax Officer Eligibility) चाहिए.

Eduacation Qualification

इसके लिए छात्रों को सबसे पहले मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी होनी अनिवार्य हैं. क्योंकि इसके बिना आप SSC CGL परीक्षा के लिए आवेदन नही कर सकते. आप स्नातक के किसी भी कोर्स जैसे BA, BSC, BBA, BCA, BTech, BCom इत्यादि कोर्स से पास होने चाहिए. उसके बाद एसएससी सीजीएल एग्जाम को पास करना आवश्यक हैं.

Age Limit (आयुसीमा)

ITO की एग्जाम का आवेदन करने के लिए छात्रों की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए. ज्यादा से ज्यादा 30 वर्ष होनी चाहिए . SSC CGL में SC/ST वर्ग को 5 वर्ष की छूट रहती हैं. OBC छात्रों को 3 वर्ष का छूट मिलेगा. PWD छात्रों को 10 वर्ष की छूट निर्धारित की गई हैं.

इनकम टैक्‍स ऑफिसर बनने की प्रक्रिया

जब तक आप अपनी पढ़ाई के लिए सही तरीका नहीं बनाएंगे. तब तक इसमें सफल होना मुश्किल हैं. इसके अलावा आप किसी अच्छी कोचिंग क्लास से भी इनकम टैक्स अधिकारी की तैयारी कर पाएंगे.

  • सबसे पहले एसएससी सीजीएल एग्जाम के लिए आवेदन करे. 
  • CBT आधारित टियर 1 और टियर 2 परीक्षा को पास करें.
  • टियर 1 और टियर 2 परीक्षा को पास करने के बाद आपको टियर 3 परीक्षा के लिए बुलाया जाएगा. जो की पेन और पेपर आधारित परीक्षा होगा, इसे पास करें.
  • तीनों चरण का परीक्षा पास करके डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन होगा. जिसके लिए मांगे गए सभी डाक्यूमेंट्स लेकर बुलाए गए सेंटर पर जाए.
  • सभी चरण को सफलतापूर्वक पास करने के बाद मेरिट लिस्ट निकाला जाएगा. जिसमें यदि आपका नाम आएगा, तो इनकम टैक्स ऑफिसर पद के लिए चुना जाता है.

एग्जाम पैटर्न एवं सिलेब्स 

एसएससी द्वारा सीजीएल एग्जाम का आयोजन हर साल किया जाता हैं. लाखों छात्र इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट में ऑफिसर बनने के लिए एसएससी सीजीएल के लिए आवेदन करते हैं. यह चार चरणों मे ली जाती हैं. इन चरणो मे सफल होने के बाद ही आप आईटीओ बन जाएंगे. जिसका एग्जाम पैटर्न कुछ इस प्रकार हैं.

टियर 1

यह एग्जाम का पहला चरण होता हैं. इसमे आवेदन करने वाले सभी छात्रों को शामिल किया जाता हैं. जिसमे छात्रों से कंप्यूटर (CBT) द्वारा परीक्षा लिया जाता हैं. जिसमे बहुविकल्पीय (Objective Type) सवाल पूछे जाते है. इन ऑब्जेक्टिव सवालों को हल करने के लिए आपको 2 घंटे का समय दिया जाएगा. यह कुल 200 मार्क्स की होती है.

Syllabus (सिलेब्स)

विषय                 प्रश्नों की संख्या           अंक               समय

सामान्य बुद्धि

और सामान्य           100                    100                2 घंटा 

जागरुकता

(भाग A)

अंकगणित            100                     100                 2 घंटा 

(भाग B)       

टियर 2    

पहले चरण को पूरा करने के बाद यह इनकम टैक्‍स का ऑफिसर बनने का दूसरा चरण हैं. इसके पहले चरण मे जो भी छात्र सफल होते हैं. उन्हे ही दूसरी बार टियर 2 एग्जाम देने के लिए बुलाया जाता हैं. इसमे केवल वही छात्र शामिल होंगे.जिन्होने पहले चरण को पूरा किया हो. एसएससी सीजीएल टियर 2 मे कुल पांच पेपर शामिल होते है. जिसमे सामान्य अध्ययन, अंग्रेजी, अंकगणित, भाषा, संचार कौशल और लेखन.

Syllabus (सिलेब्स)

विषय                                  अंक                   समय 

सामान्य अध्ययन                  200                   3 घंटे 

भाषा                                  100                 2 घंटे 40 मिनट 

अंकगणित                           200                 4 घंटे 

अंग्रेजी                                100                 2 घंटे 20 मिनट 

संचार कौशल और लेखन       200               2 घंटे 20 मिनट 

टियर 3     

जो लोग पहले और दूसरे चरण का एग्जाम पास कर लेंगे. उन्‍हें एसएससी सीजीएल टियर 3 के लिए बुलाया जाता है. टियर 3 एग्जाम ऑफलाइन मोड मे लिया जाता है. जो पेन, पेपर बेस्ड Descriptive Type परीक्षा होता हैं. इसमें हिन्दी/इंग्लिश मे निबंध और पत्र लेखन व्यख्यात्मक से जुड़े सवाल पूछे जाते हैं. जिसे हल करने के लिए कुल एक घंटे का समय दिया जाता है.

दस्तावेज सत्यापन

अब अंत मे छात्रों को दस्तावेज सत्यापन और शारीरिक परीक्षण के लिए बुलाया जाता हैं. उसके बाद छात्रों की मेरिट लिस्ट बनाई जाती है. जिसमे छात्रों को मार्क्स के हिसाब से रैंक दी जाती है और जिन छात्रों का नाम मेरिट लिस्ट मे होगा. उनको इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ऑफिसर पोस्ट के लिए चुना जाएगा.

इनकम टैक्‍स ऑफिसर की सैलरी 

इनकी सैलरी करंट पे स्केल के हिसाब से शुरुआत मे लगभग 40,000 रूपये प्रति महीने होगी. लेकिन पोस्ट और लोकेशन के अनुसार वेतन अलग अलग भी हो सकती है. एक इनकम टैक्‍स में ऑफिसर को PAN INDIA के आधार पर पोस्ट किया जाता है. ITO को मिलने वाले भत्ते और ग्रेड पे कुछ इस प्रकार है जो एक अनुमानित आकंडा हैं ये समय समय से बदलते रहेगा।

  • पे स्केल (Pay Scale)_9,300-34,800₹/-
  • ग्रेड पे (Grand Pay)_4,600₹/-
  • प्रारंभिक वेतन (Initial Pay)_9,300₹/-
  • कुल वेतन (Total Pay)_13,900₹/-
  • बिजनेस क्या है
  • डिजिटल मार्केटिंग क्या होता है
  • जीएसटी क्‍या हैं
  • टैक्‍स प्‍लानिंग क्‍या हैं

Leave a Comment